गुरुवार, 10 फ़रवरी 2011

माँ भारती

    तेरा वैभव अमर रहे माँ हम दिन चार रहें ना रहें

2 टिप्‍पणियां:

  1. मैलोरंगक बधाई स्वीकार करू...
    संगठन चलेनाई कठिन होइछ, तकर नीक अनुभव मैलोरंग लग अछि
    अहाँ नव नव एहि नीक सोचक संग एलहुँ अछि...
    कहियो कोनो तरहक बेगरता हुए त' निधोक मैलोरंग स' सम्पर्क करब...

    हँ, अहाँक लोगो मैलोरंग स' जूड़ैत अछि... ई मैलोरंग लेल नीके सूचना अछि कारण अहाँक काजक किछु फल एहि लोगोक कारण किछु मैलोरंग के सेहो भेटतै...

    मैथिली फाउण्डेशन एहिना आगू बढ़े से शुभकामना अछि...
    धन्यवाद...

    उत्तर देंहटाएं
  2. maithili foundation.....the institution for developing mithila & maithili

    उत्तर देंहटाएं